होली पर चली गोली थर्राया प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का संसदीय क्षेत्र वाराणसी

वाराणसी जोन में अपराध का ग्राफ बढ़ा

होली पर चली गोली थर्राया प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का संसदीय क्षेत्र वाराणसी
गोली लगने से घायल व्यक्ति बृजेश कुमार सिंह वाराणसी स्थित सिंह मेडिकल सेंटर में इलाज कराते हुए

*वाराणसी में होली पर चली गोली, थर्राया इलाका, घायल युवक ट्रामा सेंटर में भर्ती* 

कृष्णानन्द शर्मा (राज्य ब्यूरो) उत्तर प्रदेश

वाराणसी में होली के उल्लास के बीच गोलियां तड़तड़ाई है। पांडेयपुर इलाके में नशे में धुत कुछ लोगों ने नाच रहे एक व्यक्ति बृजेश सिंह के ऊपर पांच राउंड फायरिंग कर दी। इसमें से बृजेश को तीन गोलियां उनके सीने में लगीं, जिससे वह जमीन पर गिर पड़े। इस दौरान गोली चलते ही पूरे पांडेयपुर और लालपुर इलाके में हड़कंप मच गया। पुलिस ने फौरन इलाके को खाली कराया और रास्ते में जितने भी डीजे बज रहे थे उन सबको भी बंद कराया। पुलिस ने घायल हुए व्यक्ति बृजेश को मलदहिया स्थित सिंह मेडिकल में भर्ती कराया, हालत सीरियस होने पर ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया। जहां बृजेश की स्थिति गंभीर बनी हुई है। बृजेश लालपुर-पांडेयपुर थानाक्षेत्र के प्रेमचंद नगर कॉलोनी में रहते है। अस्पताल के बाहर मौजूद पुलिस के अधिकारियों ने कहा कि गोली क्यों चलाई गई इस मामले की जानकारी अभी नहीं हो पाई है। पुलिस ने स्पष्ट किया कि कोई आपसी रंजिश की भी बात अभी तक सामने नहीं आ रही है। पुलिस की आरंभिक जांच में पता चला है कि दोनों साथ बैठकर शराब पी रहे थे। इसी दौरान किसी बात पर दोनों में विवाद हो गया। इस पर गुस्साए जितेंद्र ने बृजेश पर ईट - पत्थर से हमला कर दिया। इसके बाद वहां से चला गया। कुछ देर बाद वापस आया और पिस्टल से ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। जहां पर फायरिंग हुई है, वहां की सीसीटीवी फुटेज निकाली जा रही है और दोषियों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

घायल बृजेश कुमार सिंह पुत्र जगजीत नारायण सिंह ने बताया कि जितेंद्र सिंह नामक मनबढ युवक ने गोलियां मारी है। जितेंद्र सिंह और मुन्ना सिंह अचानक से शराब के नशे में पहुंचे। देखते ही देखते जितेंद्र सिंह ने उनके ऊपर पिस्टल से 5 गोलियां दाग दी, जिसमें से तीन उन्हें लगी। घायल के अनुसार जितेंद्र सिंह के पास पिस्टल है। बृजेश ने बताया कि उनकी कोई दुश्मनी या रंजिश नहीं है।

मुन्ना सिंह के बारे में बताया गया कि अभी हत्या के मामले में सजा काटकर जेल से आए हैं व जितेन्द्र कट्टा और भांग का कारोबार करते हैं। हालांकि पुलिस दोनों को गिरफ्तार करने के लिए दबिश दे रहीं हैं।