आप प्रत्याशी राहुल शर्मा के व्यापक जनसम्पर्क अभियान से विपक्षियों में मची खलबली

आप प्रत्याशी राहुल शर्मा को मिल रहा व्यापक जनसमर्थन

आप प्रत्याशी राहुल शर्मा के व्यापक जनसम्पर्क अभियान से विपक्षियों में मची खलबली
आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी राहुल शर्मा का जनसम्पर्क अभियान

आप प्रत्याशी राहुल शर्मा के व्यापक जनसंपर्क अभियान से विपक्षियों में मची खलबली, 

धर्म आस्था का विषय! जाति नहीं विकास की राजनीति करती है आम आदमी पार्टी- राहुल शर्मा

लखनऊ/जौनपुर, उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी नें अपनी दमदार उपस्थित दर्ज कराते हुए अधिकांश प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है, आम आदमी पार्टी के संयोजक व मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, व प्रदेश प्रभारी संजय सिंह ने शिक्षा, स्वास्थ्य, व बिजली जैसी समस्याओं को मुद्दा बनाकर चुनावी मैंदान में हैं और लगातार राज्य सरकार की खामियों और भ्रष्टाचार को उजागर कर रहे हैं, वहीं आम आदमी पार्टी प्रत्याशियों द्वारा क्षेत्रीय समस्याओं के निराकरण व दिल्ली मांडल का हवाला देते हुए विकास का वचन दिया जा रहा है,आम आदमी पार्टी के यूपी में जबरदस्त मौजूदगी से अन्य दलों की हवा निकल गई है,उत्तर प्रदेश के जनपद जौनपुर में आम आदमी पार्टी के बदलापुर विधानसभा प्रत्याशी राहुल शर्मा ने व्यापक जनसम्पर्क अभियान के दौरान लोगों के बीच कहा कि सपा, बसपा, भाजपा, के उपर तमाम भ्रष्टाचार के आरोप हैं, लेकिन आम आदमी पार्टी कहीं भी भ्रष्टाचार में लिप्त नहीं पायी गई है, दिल्ली माडल व शिक्षा नीति पूरे भारत में सर्वश्रेष्ठ है,आम आदमी पार्टी विकास की राजनीति करती है जबकि अन्य दल धर्म और जाति की राजनीति करते हैं इसलिए आम आदमी पार्टी की तुलना किसी अन्य दल से नहीं की जा सकती, यहाँ यह भी बता दें कि आम आदमी पार्टी को जहाँ पूरे प्रदेश में व्यापक जनसमर्थन मिल रहा है वहीं बदलापुर विधानसभा के आप प्रत्याशी "राहुल शर्मा" को लेकर युवाओं में उत्साह है,व जबरदस्त जनसमर्थन मिल रहा है, वहीं अन्य दलों की बात की जाय तो अभी तक यहां सिर्फ सपा नें ओमप्रकाश दूबे बाबा को प्रत्याशी बनाया है, वहीं भाजपा व कांग्रेस अभी तक यहां अपने पत्ते नहीं खोल रही है,बसपा व अन्य दलों के सम्भावित प्रत्याशी/प्रभारी भी क्षेत्र में नजर नहीं आ रहें हैं,और आप प्रत्याशी राहुल शर्मा नें पूरी ताकत झोंक दी है, ऐसे में बदलापुर विधानसभा से आम आदमी पार्टी की जीत सुनिश्चित माना जा रहा है, फिलहाल चुनाव परिणाम तो भविष्य के गर्भ में है, लेकिन इतना तो तय है कि दिल्ली मांडल का अच्छा खासा असर उत्तर प्रदेश में देखने को मिलेगा,